• X

    Dhanteras 2018: इस चीज का भोग लगाकर करें मां लक्ष्मी को प्रसन्न

    धनतेरस (Dhanteras 2018) पर हर कोई मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहता है ताकि सालभर उन्हें धन का अभाव न हो. इस दिन लोग अपने सामर्थ्य के हिसाब से सोना, चांदी और दूसरी चीजें खरीदते हैं. फिर इन चीजों के साथ मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है. वहीं अगर धन की देवी को इस खास चीज का भोग लगाकर भी खुश किया जा सकता है.

    त्रयोदशी तिथि का मान 4 नवम्बर 2018 दिन रविवार को रात में 12:51 बजे से 5 नवम्बर 2018 दिन सोमवार की रात 11:17 बजे तक है. अर्थात त्रयोदशी तिथि अर्थात धन त्रयोदशी तिथि 05 नवम्बर 2018 दिन सोमवार को सूर्योदय से रात 11:17 तक रहेगा. अतः गृहोपयोगी सामान त्रयोदशी तिथि के स्थिर लग्न में खरीदना श्रेयस्कर होता है. इस दिन सम्पूर्ण दिन उत्तरा हस्त नक्षत्र, विष्कुम्भ योग एवं वज्र योगा व्याप्त रहेगी. धनतेरस पर पूजा करने का शुभ मुहूर्त: शाम 6.05 बजे से 8.01 बजे तक का है. जबकि शुभ मुहूर्त की अवधि: 1 घंटा 55 मिनट. प्रदोष काल: शाम 5.29 से रात 8.07 बजे तक. वृषभ काल: शाम 6:05 बजे से रात 8:01 बजे तक.

    धनतेरस (Dhanteras 2018) के द‍िन खरीदारी का शुभ मुहूर्त
    - सुबह 07:07 से 09:15 बजे तक
    - दोपहर 01:00 से 02:30 बजे तक
    - रात 05:35 से 07:30 बजे तक

    इन चीजों से करें धन की देवी को प्रसन्न
    - धनतेरस (Dhanteras 2018) की सुबह स्नान करके किसी लक्ष्मी मंदिर जाएं. मां लक्ष्मी को कमल के फूल अर्पित करें और सफेद रंग की मिठाई का भोग लगाकर मनचाहा वरदान मांग सकते हैं. नारियल के लड्डू, नारियल के बर्फी, खीर आदि चढ़ाने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं. यह धन की देवी को प्रसन्न करने का अचूक तरीका है.

    - धनतेरस (Dhanteras 2018) पर महालक्ष्मी यंत्र का पूजन कर विधि-विधान पूर्वक इसकी स्थापना करने से धनलाभ होता है.

    दिवाली पर इन राज्यों में बनती हैं ये खास मिठाइयां

    - वहीं ज्योतिषी यह भी बताते हैं कि धनतेरस (Dhanteras 2018) या दिवाली के दिन अगर संभव हो तो किसी किन्नर से उसकी खुशी से एक रुपया लेकर अपने पास रखें. इससे आपके पास कभी धन की कमी नहीं होगी.

    - धनतेरस (Dhanteras 2018) या दीपावली की शाम को घर के ईशान कोण में गाय के घी से दीया जलाने से भी लाभ मिलता है. दीये की बाती लाल रंग के धागे से बनाएं. साथ ही दीये में थोड़ी केसर भी डाल सकते हैं.

    दिवाली स्पेशल: यहां जानिए 18 तरह की बर्फी बनाने का तरीका

    - ऐसा माना जाता है कि धनतेरस (Dhanteras 2018) या दीपावली (Diwali 2018) की रात स्नान कर पीली धोती भी पहननी चाहिए. इसे धारण कर एक आसन पर उत्तर की ओर मुंह करके बैठें. अब अपने सामने सिद्ध लक्ष्मी यंत्र को स्थापित करें. ऊँ श्रीं ह्रीं श्रीं ऐं ह्रीं श्रीं का मंत्र पढ़ें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और सालभर अपनी कृपा भक्तों पर बनाए रखती हैं.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए