• X

    तनाव के बीच LOC पिज्जा कम कर रहा दिलों की दूरियां

    उरी हमले को लेकर जहां इन दिनों भारत-पाकिस्तान सीमा यानि की लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) पर दोनों देशों के सेनाओं के बीच भारी तनाव है. ऐसे में तमाम नफरतों के बावजूद दोनों देशों में कुछ लोग शांति और एकता का पैगाम भी दे रहे हैं. पाकिस्तान के शहर कराची में एक ऐसा ही कैफे है SattarBukshCafe. कैफे कस्टमर्स को स्पेशल पिज्जा सर्व कर रहा है. नाम 'एलओसी पिज्जा' रखा है. पिज्जा के जरिए यह कैफे प्यार और सौहार्द को बयां कर रहा है जिसे लोग काफी पसंद कर रहे हैं.

    एलओसी पिज्जा की खासियत यह है कि इसका आधा हिस्सा मांसाहारी है और आधा हिस्सा शाकाहारी है. पिज्जा के शाकाहारी हिस्से में भारत और मांसाहारी हिस्से में पाकिस्तान दिखता है. इतना ही नहीं, पिज्जा के मांसाहारी वाले भाग में बकायदा पाकिस्तान का झंडा लगाया गया है और शाकाहारी वाले हिस्से में भारत का झंडा. इसी तरह एक अन्य पिज्जा का नाम 'दशहतगर्द स्पाइसी पिज्जा' और बर्गर का नाम 'बेशर्म टॉपलेस बर्गर' रखा है. कराची का यह कैफे जितना अपने नाम से लोकप्रिय है, उससे कहीं ज्यादा अपने रेसिपी को लेकर चर्चा में रहता है.

    कैफे का कहना है कि उसने रेसिपी के जरिए दोनों देशों के लोगों को जोड़ने की पहल की है. ऐसे समय में तनाव को कम करने के लिए हंसी-मजाक और खाना सबसे बेहतरीन तरीका है. कैफे loc pizza की डिमांड बढ़ गई है. लोग यहां दाल-चावल, हलवा पूरी, चाय और काफी का भी लुत्फ लेते हैं. खास बात यह है कि यहां आने वाले अधिकतर कस्टमर दोनों देशों के बीच शांति चाहते हैं. कुछ दिन पहले कैफे ने सोशल मीडिया पर ट्वीट किया, 'बाबू- भइया पेश बै पैरोडी एक-दूसरे के लिए, आओ चिल करें, अगर आप मेरी तरफ हैं तो एलओसी पिज्जा लुत्फ लें'. इसके बाद हैशटैग एलओसी पिज्जा ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा था. कैफे ने पिज्जा की फोटो भी पोस्ट की है.

    इस खूबसूरत कोशिश की दोनों देशों के लोगो तारीफ कर रहे हैं. कैफे ने चाय-कॉफी के कपों पर स्लोगन लिख रखे हैं. इनमें, ऐसी की तैसी ऐसे काम की, जो चाय भी न मिले शाम की. दुनिया जलती रहे, चाय चलती रहे. कैफे में लगे पोस्टर पर लिथा है, व्हाई लो मच दूरी, ट्राई अवर हलवा पूरी. बीट द गर्म मौसम विद जूसी चिल्ड.

    दरअसल, अमेरिका की प्रसिद्ध कॉफी कंपनी स्टारबक्स (starbucks)के नाम से मिलते-जुलते नाम सत्तार बक्स (SattarBukshCafe) का नाम रखा गया है.
    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए