जानिए आपकी फेवरेट डिश फालूदा का ये रोचक इतिहास

टीम पकवानगली
नई दिल्ली,
जानिए आपकी फेवरेट डिश फालूदा का ये रोचक इतिहास

विधि
फालूदा भारत का एक ठंडा लोकप्रिय डिजर्ट है. इसे गुलाब सिरप, सेवई, मीठी तुलसी के बीज, दूध और जेली से बनाया जाता है. फिर इसे आइसक्रीम की टॉपिंग के साथ परोसा जाता है. फालूदा बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सेवई गेंहू, अरारोट, कॉर्न फ्लोर और साबूदाने से बनाई जाती है.

बता दें कि फालूदा की उत्पत्ति पर्शिया से हुई है जिसे वहां फालूदे के नाम से जाना जाता था. 16 वीं से 18 वीं शताब्दी में भारत में बसने वाले कई मुस्लिम व्यापारियों और राजवंशों के साथ यह भारत आई थी. फालूदा का वर्तमान रूप मुगल साम्राज्य द्वारा विकसित किया गया था. मुगलों से जीते हुए मुस्लिम शासकों ने विशेष रूप से हैदराबाद और कर्नाटक के क्षेत्रों में इसका संरक्षण किया.

फालूदा कहीं सेवई के साथ बनाया जाता है तो कहीं बिना सेवई के यानी केवल फ्रूट्स से. आइए अब हम आपको बताते हैं कहां कैसा फालूदा मिलता है:
-बांग्लादेश में इसे नारियल और आम के साथ सर्व किया जाता है.
- मलेशिया और सिंगापुर में ऐसी ही एक ड्रिंक को बॉनडंग कहते हैं.
- फालूदा के जैसा ही एक थाई ड्रिंक भी है जिसे नाम मंगलक कहते हैं.
- ईराक में इसे मोटी सेवई से बनाया जाता है.
- साउथ अफ्रीका में इसे फालूदा के नाम से ही जानते हैं. इसे वहां मिल्क शेक के तौर पर खाया जाता है और कई बार तो खाना खाने के बाद भी.

संबंधित खबरें

खुरमी से लेकर सोहारी तक, ये हैं छत्तीसगढ़ के पारंपरिक पकवान
25 June, 2019
छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है यानी यहां पर धान की खेती सबसे ज्यादा होती है. इसलिए यहां चावल और इससे बनने वाले पकवान ...
जानिए सात्विक भोजन में क्यों शामिल नहीं किए जाते प्याज-लहसुन
25 June, 2019
ग शास्त्र में सात्विक भोजन को सबसे शुद्ध माना गया है. बिना प्याज-लहसुन और कम मसाले वाला खाना सात्विक भोजन कहलाता है. योगा ...
पेट में बनने वाली गैस की वजह से हैं परेशान तो खाएं ये 5 चीजें
25 June, 2019
गर्मी में सही खान-पान न होने की वजह से एसिडिटी होना आम बात है. ये प्रॉब्लम ज्यादातर लोगों को होती है. इसके पीछे उनका गर्म चीज ...