• X

    62 की उम्र में 32 के दिखते हैं अनिल कपूर, इस डाइट में छिपा है राज

    बॉलीवुड के एवरग्रीन कहे जाने वाले अभिनेता अनिल कपूर अपनी फिटनेस को लेकर हमेशा से ही सुर्खियों में रहते हैं. उनकी फिटनेस का राज हर कोई जानना चाहता है. लोंगो के मन में यही जिज्ञासा रहती है कि वे 62 की उम्र में भी खुद को इतना मेंटेन कैसे रखते हैं.?

    हालांकि, पिछले कुछ दिनों अनिल कपूर ने अपने एक इंटरव्यू में सारा क्रेडिट साउथ इंडियन फूड को दिया था जिसमें उन्होंने बताया था कि इडली, डोसा खाना उन्हें बहुत पसंद है. यह महज एक छोटी-सी बात थी, लेकिन आज इस बात की पुष्टी उनकी डायटीशियन कविता देवगन ने कर दी है जिसमें अनिल कपूर की फिटनेस का राज सबके सामने आ ही गया.

    62 की उम्र में 30 जैसे दिखने वाले अनिल कपूर की फिटनेस का राज है, फर्मेंटेड फूड. उनकी डायटीशियन ने बताया सभी साउथ इंडियन फूड फर्मेंटेशन की प्रकिया से ही बनाए जाते हैं. फर्मेंटेड फूड बहुत ज्यादा पौष्टिक होता है इसलिए यह आसानी से पच जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि नारियल पानी भी इस डाइट का एक हिस्सा है. यह शरीर में इलेक्ट्रोलाइट के बैलेंस को नियंत्रण में रखता है.

    अनिल कपूर की दूसरी डायटीशियन शालिनी सिंघल ने बताया कि फर्मेंटेड फूड अपने आप में बहुत ही ज्यादा पौष्टिक होते हैं. इतना ही नहीं, इसे खाने से पाचन तंत्र ठीक से काम करता है. इडली, डोसा और उत्तपम आदि प्रोबायोटिक्स रिच फूड होते हैं. फर्मेंटेड फूड के सेवन से शरीर में विटामिन B की कमी पूरी होती है और इम्यून सिस्टम को मजबूती मिलती है. उन्होंने यह भी कहा कि अनाज और दालों दोनों का एक कॉम्बीनेशन इडली, डोसा और चावल-सांभर भी है जो शरीर में प्रोटीन की कमी पूरी करता है.

    उन्होंने बताया कि ज्यादातर साउथ इंडियन फूड नारियल के तेल में बनता है. इसमें MCTs (medium-chain triglyceride) पाई जाती है जो सिर के बालों और त्वचा के लिए बहुत लाभदायक है. अनिल कपूर की डायटीशियन की मानें तो बीमारी के समय डीप-फ्राइड भोजन से बचना चाहिए क्योंकि उस समय शरीर ऐसे खाने को आसानी से नहीं पचा पाता है.

    क्‍या ये रेसिपी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए