• X

    आपके किचन में ही छिपा है आपकी चमकदार किस्मत का राज

    रसोई में मौजूद चीजें न सिर्फ खाना पकाने और खाना खाने-खिलाने का ही काम करती हैं बल्कि इसके कई फायदे भी होते हैं. इन्हीं में से एक है तवा और कड़ाही. इनके हमारे जीवन से जुड़े भी काफी महत्व हैं.
    ज्योतिषाचार्यों के अनुसार किचन में किसी खास जगह पर रखी गई चीज का अपना खास महत्व होता है. आइए हम आपको बताते हैं कि कैसी रखनी चाहिए अपनी रसोई, चीजों को कैसे और कहां रखना होता है जरूरी.

    टिप्‍स

    रसोई में मौजूद चीजें न सिर्फ खाना पकाने और खाना खाने-खिलाने का ही काम करती हैं बल्कि इसके कई फायदे भी होते हैं. इन्हीं में से एक है तवा और कड़ाही. इनके हमारे जीवन से जुड़े भी काफी महत्व हैं.
    तवे का इस्तेमाल हम रोटियां, चीला आदि बनाने के लिए तो करते ही हैं. पर क्या आप जानते हैं कि तवा सिर्फ खाना बनाने के लिए ही नहीं बल्कि कई और चीजों के लिए बहुत लाभकारी माना जाता है.
    ज्योतिषाचार्यों के अनुसार किचन में किसी खास जगह पर रखी गई चीज का अपना खास महत्व होता है. आइए हम आपको बताते हैं कि कैसी रखनी चाहिए अपनी रसोई.

    - रसोई को साफ रखना बेहद जरूरी होता है.
    - गंदी कड़ाही, गंदे तवे का इस्तेमाल कभी नहीं करना चाहिए. इसका सीधा असर आर्थिक स्थिति पर पड़ता है.
    - जब भी तवे का इस्तेमाल करें, इसे तुरंत धो लें. रात के खाने के बाद तो इसे धोना बहुत जरूरी होता है. ऐसा न करने से अन्न का अपमान होता है.
    - सुबह तवे के इस्तेमाल से पहले इसे गरम कर इस पर नमक छिड़क दें.
    - जब भी रोटियां बनाएं तो अगली और पिछली रोटी जरूर निकालें. यह गाय और कुत्ते के लिए निकाली जाती है. इससे घर में सुख-समृद्धि आती है.
    - तवे के इस्तेमाल के बाद इसे किसी भी जगह पर न रख दें. साफ-सुथरी जगह पर ही रखें.
    - इसे कभी भी उल्टा नहीं रखना चाहिए.
    - तवे के इस्तेमाल के बाद आप इसे गैस के दाएं तरफ ही रखें. बाएं तरफ रखने से नकारात्मक उर्जा आती है.
    - आंच बंद कर देने के बाद खाली तवे को खाली गैस पर बिल्कुल न छोड़ें.
    - गरम तवे पर पानी डालने की भी मनाही होती है.
    - कहते हैं तवे को जिनता चमका के रखा जाएगा, किस्मत उतनी ही चमकती है.

    क्या ये टिप्स आपके लिए उपयोगी हैं?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें
    टैग्स

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए