• X

    ऐसे मनाएं करवा चौथ का त्योहार

    करवा चौथ सुहागिनों का त्योहार होता है. हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ मनाया जाता है. इस दिन सारी विवाहित स्त्रियां 16 श्रृंगार कर पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला व्रत करती हैं.

    विधि

    करवा चौथ सुहागिनों का त्योहार होता है. हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ मनाया जाता है. इस दिन सारी विवाहित स्त्रियां 16 श्रृंगार कर पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला व्रत करती हैं. पूजा के बाद महिलाएं चंद्रमा को अर्घ्य देकर पति के हाथ से पानी पीकर अपना व्रत खोलती हैं और उसके बाद ही पहला निवाला खाती हैं.

    इस दिन कई तरह के पकवान बनाए जाते हैं जैसे पूरी, हलवा, गोभी आलू की सब्जी, रसे वाले आलू, अचारी भिंडी आदि. खाने में प्याज-लहसुन का इस्तेमाल नहीं किया जाता है.  

    करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त:


    करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त आज शाम 5 बजकर 33 मिनट से आरंभ होकर 6 बजकर 39 मिनट तक रहेगा. आज के दिन की उपासना का समय सुबह 6 बजकर 35 मिनट से ही शुरु हो जाएगा और यह रात 8 बजकर 12 मिनट पे समाप्त होगा. बता दे कि चतुर्थी तिथि सुबह 3 बजकर 24 मिनट से ही शुरु हो चुकी है और इसका समापन अगले दिन यानी 5 नवंबर की सुबह 5 बजकर 14 मिनट पे होगा.   
    क्‍या ये रेसिपी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें
    टैग्स

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए