• X

    जब बेन स्टोक्स को भा गया था ये भारतीय खाना

    रोमांच से भरपूर क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल जैसा मुकाबला शायद ही कभी इससे पहले हुआ हो. दो बार टाई होने के बाद नाटकीय अंदाज में मैच का अंत हुआ और इंग्लैंड पहली बार क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब रही. इस मैच के हीरो रहे इंग्लैंड के बेन स्टोक्स. उनकी जितनी तारीफ की जाए कम होगी. क्योंकि उन्होंने अपने दम पर मैच का रुख पलट दिया था.

    50वें ओवर में न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल का थ्रो रन भाग रहे स्टोक्स के बैट पर लगा और गेंद बाऊंड्री के पार चली गई. यहां इंग्लैंड की टीम को अतिरिक्त 4 रन मिले, जिससे मैच आसानी से टाई हो गया. हालांकि, इसके बाद स्टोक्स ने इसके लिए माफी मांगी और कहा कि इसके लिए उन्हें जीवनभर अफसोस रहेगा. क्रिकेट में नाम कमाने वाले स्टोक्स का जन्म न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुआ था. 12 साल में वे अपनी फैमिली के साथ इंग्लैंड आ गए. यहां से उन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया था.

    स्टोक्स 2016 में टेस्ट मैच खेलने जब भारत आए थे तब उनकी खूब चर्चा हुई थी. उन्होंने राजकोट में हुए पहले टेस्ट मैच में 138 रन की पारी खेली थी. उस दौरान जब उनसे पूछा गया कि टेस्ट क्रिकेट में इतनी लंबी पारी कैस खेल गए. इस पर उन्होंने कहा था कि, जब मैं नॉट आउट रहता हूं तो मैं खा नहीं सकता, पता नहीं ऐसा क्यों. जबकि मेरे फीजियो कोच मुझे कुछ-कुछ खाने के लिए हमेशा बोलते हैं. मैच के दौरान मैं खा नहीं सकता है, यहां तक प्रोटीन शेक भी पीना मुझे अच्छा नहीं लगता है. जब उनसे भारतीय खान-पान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें दाल, रोटी और चावल खाना पसंद है. जब वेबसाइसाइट पर उनकी पसंदीदा डिश ऑमलेट बताई गई है.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए