• X

    CJI बोबडे को पसंद है यह डिश, मेहमानों को भी हैं परोसते

    जस्टिस शरद अरविंद बोबडे ने भारत के 47वें मुख्य न्यायाधीश (चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया) के रूप में शपथ ले ली है. 63 वर्षीय सीजेआई बोबडे ने रंजन गोगोई का स्थान लिया है. आपको बता दें पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई का कार्यकाल 17 नवंबर को खत्म हुआ है. गोगोई ने ही जस्टिस बोबडे को अपना उत्तराधिकारी बनाने की अनुशंसा सरकार से की थी. जिस पर सरकार ने स्वीकृति दे दी थी.

    सीजेआई बोबडे को जानने वाले बताते हैं कि वह बहुत ही खुशमिजाज और मृदुभाषी हैं. उन्हें बाइक राइडिंग और पालतू डॉग्स बहुत पसंद हैं. उन्होंने दो डॉगी पाल रखे हैं एक का नाम साशा है और दूसरे का बादशाह. सीजेआई बोबडे फिश लवर हैं. उन्होंने अपने घर पर एक छोटा तालाब भी बनवा रखा है जहां बहुत सारी मछलियां हैं. वे रोजाना मछलियों को दाना-पानी देते हैं और उनकी देखभाल करते हैं.

    बहुत सादगी से रहते हैं सीजेआई
    सीजेआई शरद अरविंद बोबड़े खाली समय में किताबें पढ़ना पसंद करते हैं. वे घर पर बेहद सादगी से रहते हैं. इतना ही नहीं वो अपने दोस्तों और मेहमानों की खातिरदारी के लिए भी जाने जाते हैं. जब भी मौका मिलता है अपने साथी जजों और वकीलों को महाराष्ट्र का पारंपरिक भोजन जरूर खिलाते हैं. जाहिर उन्हें खुद भी महाराष्ट्रीयन खाना पसंद है. उन्हें क्रिकेट खेलना पसंद है और सुप्रीम कोर्ट की टीम के वो अहम हिस्सा भी हैं.

    हफ्ते में सभी जज खाते हैं साथ खाना
    पारंपरिक खानों का स्वाद लेने के लिए हर हफ्ते सुप्रीम के जज घर का खाना खाते हैं. इसके लिए जज अपने होम स्टेट की पारंपरिक डिश बनवाते हैं और साथी जजों के साथ खाते हैं. साल 2017 के अप्रैल में ऐसे ही कार्यक्रम के तहत नए सीजेआई ने अपने साथी जजों के लिए महाराष्ट्र के प्रसिद्ध पकवान बनवाकर खिलवाए थे.

    साथी जज हो गए थे खुश
    CJI sharad arvind bobde ने साथी जजों के लिए मिर्च का ठेचा के साथ सांभर वड़ी, पातल भाजी और अरहर की दाल खास महाराष्ट्रीयन स्टाइल में बनवाई थी. जबकि स्वीट डिश में पूरन पोली बनाई गई. जिसे खाकर उनके सभी साथी जज बहुत खुश हुए थे. पूरन एक तरह की पूड़ी होती है जिसमें चने की दाल का हलवा भरकर बनाया जाता है. घी से बनाया जाता है और सर्व करते समय इस पर खूब सारा घी डालकर दिया भी जाता है.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए