• X

    देसी घी या मक्खन, कौन है हेल्थ के लिए बेस्ट ?

    आज भी लोग इसी धारणा में जीते आ रहे हैं कि घी खाना सेहत के लिए अच्छा नहीं है. इसे खाने से बहुत तेजी से वजन बढ़ता है जबकि मशहूर शेफ मंजित सिंह गिल का कहना है कि हर व्यक्ति को रोजाना अपने खाने में देसी घी का इस्तेमाल करना चाहिए. देसी घी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

    राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान (एन.डी.आर.आई) के रिसर्च से पता चला है कि गाय का घी उन एंजाइम्स को बढ़ाता है जो कैंसर पैदा करने वाले जीवाणुओं को निष्क्रिय कर देते हैं.
    डॉ. वेद प्रकाश डहेरिया कहते हैं कि देसी घी टाइप-2 डायबिटीज, हार्ट प्रॉब्लम, कैंसर और एलर्जी से बचाव करता है. देसी घी मक्खन से ज्यादा बेहतर होता है. यह न केवल शरीर की रोग-प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाता है बल्कि मोटापा भी कम करता है और खून में मौजूद कॉलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित रखता है. घी को एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-फंगल और एंटी-बायोटिक बताया गया है. घी खाने से बल, बुद्धि, आयु सबका विकास होता है. (जानें कौन सी चीनी है सेहत के लिए बेस्ट?)

    जानें एक्स्पर्ट द्वारा घी खाने से जुड़ी इन बातों को:
    - एक्स्पर्ट ने जरूरत से ज्यादा घी खाने को भी सेहत के लिए हानिकारक बताया है. (ऐसे करें मक्खन सॉफ्ट)
    - हर इंसान को रोजाना 2 से 3 चम्मच घी खाने में शामिल करना ही चाहिए. (यह है मलाई से घी बनाने का तरीका)
    - कच्चा घी/मक्खन का सेवन बिल्कुल भी न करें.
    - रात के समय घी न ही खाएं तो बेहतर है. (जानें कैसे खाएं मलाई)
    - ट्रांस फैट और वनस्पति घी के इस्तेमाल से बचना चाहिए. यह पचाने में काफी दिक्कत पैदा करता है.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए