• X

    बच्चे को सर्दी-जुकाम से राहत दिला सकते हैं ये घरेलू नुस्खे

    अपने शिशु को बार बार सर्दी-जुकाम से परेशान होते हुए देखना आपके लिए भी तकलीफ भरा हो सकता है. शिशु को बेचैनी-सी रहेगी और वह नाक सुड़कता रहेगा. उसे दूध पिलाने में भी मुश्किल हो सकती है. मगर, आप उसकी ये तकलीफ दूर करने के लिए काफी कुछ करने की सोचती हैं लेकिन नाजुक उम्र को देखते हुए ऐसा कर नहीं सकतीं. लेकिन इन घरेलू उपाय से उसे सर्दी-जुकाम से आराम दिला सकती हैं. जानिए क्या हैं ये घरेलू उपाय.

    शहद और नींबू
    अगर बच्‍चा एक वर्ष से कम आयु का है तो उसके लिए यह उपचार काफी फायदेमंद होगा. एक छोटे पैन में चार नींबू का रस, उनके छिलके और एक चम्मच अदरक की फांके लें. इसमें इतना पानी डालें सारी चीजें इसमें डूब जाएं. इसे ढककर 10 मिनट तक उबालें. फिर तैयार पानी को अलग कर लें. अब इस तरल पेय में उतनी ही मात्रा में गुनगुना पानी और स्वाद के लिए शहद मिला लें. तैयार गुनगुने नींबू-पानी को दिन में 4-5 बार शिशु को चम्मच से पिलाएं. इससे नुस्खे से आपके लाडले की बंद नाक खुल जाएगी और सर्दी-जुकाम में उसे राहत महसूस होगी.
    (शिशु को पिलाएं दाल का पानी, होगा लाभ )
    हल्दी भी है फायदेमंद
    सर्दी-खांसी होने पर हल्‍दी बहुत काम आती है. बच्‍चा अगर दूध पीता है तो अपने स्‍तन पर थोड़ी-सी हल्‍दी लगा लें. जिससे बच्‍चा जब दूध पिएं तो वह हल्‍दी का सेवन कर ले. अगर बच्‍चा बोतल से दूध पीता है तो दूध में थोड़ी-सी हल्‍दी मिला लें. फिर बच्‍चे को पिलाएं. शिशु को दिन में दो बार हल्‍दी वाला दूध पिलाने से राहत मिलेगी.
    (एक गिलास स्मूदी और बच्चा रहेगा पूरे दिन हेल्दी)

    नमक वाला पानी पिलाएं
    अगर बच्‍चा बंद नाक की वजह से न तो ठीक से खा पा रहा है और न ही सो पा रहा है तो उसे नमक वाला पानी पिलाइए. यह पानी बलगम से छुटकारा दिलाएगा. इसे दिन में 2-3 बार पिला सकती हैं.

    (जानें कितनी सेफ है आपके शिशु की दूध की बोतल)

    शिशु को हाइड्रेट रखें
    सुनने में अटपटा लगेगा और शायद आप को विश्वास न हो, लेकिन जुकाम और बंद नाक की समस्या में शिशु को पानी पिलाते रहने से उसका सर्दी और जुकाम जल्दी ठीक हो सकता है. अगर बच्चे का शरीर अच्छी तरह हाइड्रेटेड होगा तो ये नुस्खा आसानी से सर्दी और जुकाम के संक्रमण को शरीर से बाहर निकलने में सहायता करेगा. सर्दी जुकाम को ठीक करने के लिए पानी एक अचूक दावा है. अगर आपका लाल छह महीने से छोटा है तो शिशु को स्तनपान के द्वारा हाइड्रेटेड रखें. छह महीने से छोटे शिशु को पानी न पिलाएं.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए