• X

    जानिए दूध को कितनी बार उबालना होता है सही?

    ये तो सभी जानते हैं कि मार्केट से लाया गया दूध को उबालकर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. ऐसा करने से उसमें मौजूद जीवाणु मर जाते हैं. पर क्या आप यह जानते हैं कि दूध को कितनी बार उबालना सही होता है?

    दूध में भरपूर मात्रा में विटामिंस, कैल्शियम, प्रोटीन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं और इसे पीना स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी माना जाता है. रोजाना दूध पीने से शरीर को ताकत मिलती है. हड्डियां मजबूत होती हैं.

    एक स्‍टडी के अनुसार केवल 17% महिलाएं ही इस बात को जानती हैं कि बार-बार दूध उबालने से इसके पोषक तत्व खत्म होने लगते हैं, जबकि 59% महिलाओं का मानना है कि दूध को बार-बार उबालने से पोषक तत्व बढ़ते हैं, वहीं 27%  इस बात से सहमत हैं कि दूध उबालने से पोषक तत्वों पर कोई असर नहीं पड़ता.


    इंडियन मेडिकल अकादमी ने 25 से 40 की उम्र के बीच की 300 महिलाओं पर एक स्ट्डी की थी. जिसके अनुसार मुंबई के 41% लोग दूध पीने से पहले इसे तीन से भी ज्यादा बार उबालते है, वहीं 56% लोग 5 मिनट से ज्यादा दूध उबालना सही मानते हैं. स्टडी में यह बात भी सामने आई है कि 77 प्रतिशत लोग दूध उबालते समय इसे चलाते नहीं हैं.    

    इसी स्टडी से यह भी पता चलता है कि 68 फीसदी लोग दूध उबालने को बहुत मेहनत का काम मानते हैं वहीं 64 प्रतिशत लोग कोई ऐसा विकल्प ढूंढते हैं जिससे उन्हें दूध उबालने की जरूरत न पड़े और वे इसे बिना उबाले ही पी सकें.

    एक बार उबालने के बाद जितना हो सके दूध को कम ही उबालना चाहिए. आप इसे हल्का गर्म कर सकते हैं. दूध का बर्तन जब भी आंच पर रखा हुआ हो तो ध्यान से इसे किसी चम्मच या कड़छी से चलाते रहें.
    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए