• X

    शेफ कुणाल कपूर ने बताया गर्मी में कैसा शरबत पीना चाहिए

    गर्मी का मौसम, चिलचिलाती धूप और इसके साथ ही आती हैं ढेरों बीमारियां. जिसे बचाते हैं कुछ खास फल और इनके जूस. इसी मौसम में आने वाला फल फालसा है गुणों की खान. जिसके फायदे मशहूर शेफ कुणाल कपूर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर वीडियो शेयर करते हुए बताया है. फालसे को भारत का समर बेरी भी कहा जाता है. यह 3-4 हफ्तों के लिए मार्केट में आता है. आइए जानते हैं छोटे से फल के बड़े-बड़े फायदों के बारे में.

    - फालसे में एंटीऑक्सीडेंट तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं जो शरीर को इंफेक्‍शन से बचाते हैं. इसमें मौजूद मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फास्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन ए और विटामिन सी जैसे पोषक तत्व हमारे शरीर में पोषक तत्‍वों की कमी को पूरा करते हैं.

    - गर्मी के मौसम स्‍वास्‍थ्‍य समस्याओं को दूर करने के लिए फालसे के रस का सेवन करना शरीर के लिए टॉनिक का काम करता है. यह पित्त की समस्याओं को दूर करता है और पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है.

    - विटामिन सी और खनिज तत्वों से भरपूर फालसा के सेवन से ब्‍लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कंट्रोल में रहता है.

    - हाल ही में हुए वैज्ञानिक शोधों से यह बात सामने आई है कि फालसे में रेडियोधर्मी क्षमता भी होती है. इस कारण यह कैंसर से लड़ने में भी शरीर की मदद करता है.

    - खून की कमी के कारण एनीमिया रोग होने पर इसे खाने से शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ता है और एनीमिया से बचाव होता है.

    - गर्मी के मौसम में अक्‍सर लू लगने के कारण बुखार जैसी बीमारियां हो जाती हैं. इनसे बचने के लिए इस फल का सेवन करना लाभदायक होता है.

    - विटामिन सी से भरपूर फालसे का खट्टा-मीठा रस खांसी-जुकाम को रोकने और गले में होने वाली समस्याओं से निजात पाने के लिए काफी प्रभावशाली है.
    (मशहूर शेफ कुणाल कपूर)

    कुणाल बताते हैं की शरबत फ्रेश बनाना और बनाकर फ्रेश ही पीना चाहिए. बाजार में मिलने वाला शरबत सही तरीके से तैयार नहीं किया जाता और उसके सभी फायदे खत्म हो जाते हैं. क्योंकि फालसे का शरबत बनाने के लिए इसक रस को उबाल दिया जाता है जिससे इसके सारे पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं. फालसे का शरबत बनाने का सही तरीका ये है.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए