• X

    नवरात्रि व्रत में ऐसी रखें डाइट, नहीं बढ़ेगा वजन

    10 अक्टूबर 2018, बुधवार से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो रही है, जो 18 अक्टूबर 2018, शुक्रवार तक रहेगी. 19 अक्टूबर को विजयादशमी मनेगी. नवरात्र के मौके पर श्रद्धालू व्रत रखकर मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा करते हैं. व्रत के दौरान लोगों को खान-पान की सही जानकारी न होने की वजह से वे मोटापे का शिकार हो जाते हैं. इसमें ज्यादा वजन महिलाओं का बढ़ता है. ऐसे में हम बता रहे हैं ऐसी डाइट के बारे में जिसे अपनाने से आपका वजन नहीं बढ़ेगा.

    कैसी चाय पीनी चाहिए
    व्रत के दौरान शरीर को भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए. ऐसे में जैस्मीन टी सबसे ज्यादा फायदेमंद हो सकती है. यह चाय वॉटर रिटेंशन को रोकने में बेहतर होती है. आप चाहें को ग्रीन या ब्लैक टी भी पी सकती हैं. रात को सोने से एक घंटे पहले चाहें तो दूध वाली चाय भी पी सकते हैं. इस चाय से शरीर के लिए जरूरी प्रोटीन मिल जाएगा.

    व्रत स्पेशल साबूदाना भेल

    हरी पत्तेदार सब्जियों
    व्रत के दौरान शरीर के जरूरी प्रोटीन, विटामिंस पूर्ती के लिए हरी पत्तेदार सब्जियां खानी चाहिए. सब्जियों को सलाद के रूप में खाना अच्छा है. अगर सलाद नहीं खाना चाहते तो इनका सूप पी सकते हैं. इसके अलावा चुकंदर का सूप पीने से शरीर को आयरन और कैल्शियम मिल जाएगा जो डिटॉक्स के लिए बेहतर है. वहीं सलाद में खीरा, गाजर, मूली, गोभी, नींबू और सरसों के बीज का इस्तेमाल कर सकते हैं. ऐसी खाने से वजन भी नहीं बढ़ेगा.
    व्रत के दौरान कुछ ऐसे रखें अपनी सेहत का ख्याल

    सूखे मेवे
    मेवे यानी ड्राईफ्रूट्स हमेशा से शरीर के लिए फायदेमंद रहे हैं. अगर एक मुट्ठी मेवे खा लिए जाएं तो शरीर को जरूरी ऊर्जा मिल सकती है. व्रत के दौरान बादाम, अखरोट, खजूर, अंजीर बहुत ऊर्जा देते हैं. अगर सुबह तीन अंजीर खा लें तो शरीर में दिनभर ऊर्जा बनी रह सकती है. वहीं रोजाना 4 से 5 खजूर और दो बादाम खाने से व्रत के दौरान आयरन की कमी पूरी की जा सकती है. हां, लेकिन हाई कोलेस्ट्रॉल वाले व्रतधारियों को काजू नहीं खाना चाहिए. वहीं किशमिश खाने के बाद भरपूर पानी पीना चाहिए.

    साबूदाना से करें शुरुआत
    नवरात्रि व्रत के दौरान बहुत से ज्यादातर व्रत करने वाले लोग साबूदाना खिचड़ी और कुट्टू से बनी चीजें खाना पसंद करते हैं. व्रत के दौरान शरीर को डिटॉक्स करने के लिए साबूदाना खिचड़ी खा सकते हैं. इसे हेल्दी बनाने के लिए आप इसमें कुछ सब्जियां भी उबालकर मिला सकते हैं. वैसे कोशिश करें कि साबूदाने से बनी चीजें दिन में एक बार ही खाएं.

    पिएं खीरा या पुदीना पानी
    व्रत के दौरान नॉर्मल पानी की बजाय पुदीने और खीरे का पानी पिएं. ऐसा पानी बनाने के लिए एक गिलास में 300 मिलीलीटर पानी में 100 ग्राम फल काटकर मिला लें. इसे रातभर भिगोकर रखें और अगली सुबह पिएं. वहीं मिल्क शेक की बजाय दही शेक भी पिया जा सकता है. आप चाहें तो इसमें अपने पसंदीदा फल भी मिला सकते हैं.

    तली हुई चीजें खाने से बचें
    व्रत के दौरान कुछ लोगों की आदत ज्यादा तला-गला खाने की होती है. इसमें चिप्स सबसे ज्यादा खाए जाते हैं. वहीं शाम को व्रत खोलते वक्त पूड़ियां, पकौड़े या आलू के चिप्स भी खाने की थाली में रख लेती हैं. फ्राइड चीजें खाने से वजन तेजी से बढ़ता है. हाई कोलेस्ट्रॉल वाले रोगियों को कम वसा वाली चीजों का सेवन करना चाहिए. कुट्टी के आटे की पकौड़े में आप पनीर व कुछ सब्जियां मिलाकर खा सकते हैं.

    फल भी हैं बेहतर
    इसमें कोई दो राय नहीं है कि व्रत के दौरान हम सामान्य दिन से ज्यादा खाते हैं. कई लोग तो इस दौरान 3-4 बार कुछ न कुछ खा ही लेते हैं. जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए. इससे वजन तेजी से बढ़ता है. व्रत के दौरान फाइबर और प्रोटीन वाली चीजें खानी चाहिए. इसमें अनार काफी हद तक आपकी मदद कर सकता है. दही में अनार के दाने मिलाकर खाने से बढ़िया हो सकता है. जो लोग निर्जला व्रत रखते हैं उन्हें 2-3 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए