• X

    नवरात्र व्रत के पहले दिन ऐसी हो आपकी फलाहार थाली

    नवरात्र में अगर पूरे नौ दिन का व्रत रखने की सोच रहे हैं तो जान लीजिए इन नौ दिनों में आपकी फलाहारी थाली कैसी होनी चाहिए. पकवानगली पूरे नवरात्र आपको बताएगा आपकी थाली और उसके खास पकवानों के बारे में.
    आज से नवरात्र की शुरुआत हो गई है. मां दुर्गा के भक्त व्रत रखकर उनकी आराधना करते हैं फिर शाम को फलाहार करते हैं. नवरात्र के पहले दिन मां दुर्गा के शैलपुत्री स्वरूप की पूजा की जाती है. इस दिन माता को गाय के दूध और घी से बने पकवानों का भोग लगाया जाता है.
    पिपरमिंट युक्त मीठा मसाला पान, अनार और गुड़ से बने पकवान भी देवी को अर्पण किए जाते हैं. तो इसी तर्ज पर आप भी शाम को इसी तरह के पकवानों से सजी फलाहारी थाली का आनंद ले सकते हैं.
    इसमें कुट्टू के आटे के पूरी, आलू वाले पकौड़े, समा के चावल, खीरे का रायता, साबूदाने की खीर, साबूदाने का पापड़, फलों का सलाद, आलू की सब्जी, शामिल कर सकते हैं. देवी शैलपुत्री को खीर का प्रसाद चढ़ाया जाता है तो आप भी अपने फलाहार में चावल की खीर रख सकते हैं.

    इस चीज का भोग जरूर लगाएं:
    मां शैलपुत्री को सफेद चीजों का भोग लगाया जाता है. अगर ये गाय के दूध के घी में बनी हों तो व्यक्ति को रोगों से मुक्ति मिलती है और हर तरह की बीमारी दूर होती है.
    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए