• X

    भिगोए या सूखे, जानिए बादाम खाने का सही तरीका

    बादाम खाने से याददाश्त बढ़ती है. साथ ही यह शरीर को कई फायदा भी होता है इन्हें खाने से. बादाम खाना शरीर के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. बादाम में भरपूर मात्रा में विटामिन E पाई जाती है और इसी वजह से रोजाना बादाम खाना काफी सेहतमंद माना जाता है. विटामिन E के साथ-साथ इसमें जिंक, कैल्शियम, मैग्नीशियम और ओमेगा-3 फैटी एसिड भी होता है जो हमें फिट रखने में कारगर है.

    कुछ लोग सूखे, कुछ भिगोकर तो कई रोस्टेड बादाम खाना पसंद करते हैं. वहीं कुछ लोगों का मानना है कि सूखा खाने से भी उतने ही फायदे मिलते हैं जितने किसी और तरीके से. अगर बादाम खाने को लेकर किसी तरह का कन्फ्यूजन है तो हम बताते हैं बादाम खाने का सही तरीका क्या है? और क्या-क्या फायदे होते हैं?

    क्या होता है सूखे बादाम बादाम खाने से?
    हम आप ज्यादातर सूखे बादाम खाना पसंद करते हैं. इसलिए हम सबसे पहले इसी पर बात करेंगे. अगर आयुर्वेद बात करें तो सूखे बादाम, ऊतकों की मरम्मत करता है और स्किन के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं.

    भीगे बादाम खाने के फायदे
    सूखे बादाम खाने के फायदे तो हमने आपको बता दिए. अब जानिए बादाम को भिगोकर खाने से क्या होता है. दरअसल, बादाम में कई तरह के विटामिन, मिनरल्स पाए जाते हैं. इन सभी का पूरा फायदा मिले इसलिए बादाम को रातभर भिगोकर रखना अच्छा माना जाता है.

    कुछ खाकर या खाली पेट, कब खाना चाहिए?
    बहुत कम लोग ही होंगे जो खाली सिर्फ बादाम खाते हैं. वैसे कहा भी जाता है कि खाली पेट सूखे बादाम नहीं खाना चाहिए. ऐसा करने से पित्त बढ़ता है और पाचन संबंधी समस्याएं घेर लेती हैं.

    सूखे या भीगे, कौन से बेहतर?
    सूखे और भीगे बादाम खाने के फायदे हमने आपको बता दिए. अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि कौन से वाले बेहतर होते हैं. इसका जवाब है कि सूखे और छिलकेयुक्त बादाम खाने से इन्हें पचाने में आंतों को थोड़ी मेहनत ज्यादा करनी पड़ती है. इससे खून में पित्त की मात्रा बढ़ती है. बादाम के छिलकों में टैनिन होता है जो पोषक तत्वों को अवशोषित होने से रोकता है. वहीं जब बादाम को भिगोकरक खाया जाता है तो इससे पहले इनके छिलके निकाल दिए जाते हैं. जिससे इनका सारा पोषक तत्व शरीर को मिल जाता है और इन्हें पचाने में आसानी होती है. इतना ही नहीं भीगे बादाम खाने से दिल की सेहत अच्छी रहती है. ये बेहतरीन एंटी ऑक्सिडेंट का काम करते हैं.

    एक दिन में कितने बादाम खाने चाहिए?
    कहा जाता है कि अति किसी भी चीज की बुरी होती है. इसी तरह बादाम के साथ भी है. ज्यादा मात्रा में बादाम खाने से त्वचा संबंधी रोग होने के खतरे बढ़ जाते हैं साथ ही पाचन क्रिया प्रभावित हो सकती है. इसलिए एक व्यक्ति एक दिन में 8-10 बादाम से ज्यादा नहीं खाने चाहिए.

    बादाम खाने से क्या होता है?
    बादाम खाने से दिमाग तेज होता है. साथ ही दिल को हेल्दी रखते हैं. पाचन के साथसाथ, बालों के लिए भी फायदा पहुंचाते हैं बादाम. बादाम खाने इससे बैड कोलेस्‍ट्रॉल कम होता है.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए