• X

    कहीं आप भी तो गलत समय पर नहीं खाते हैं सेब?

    अच्छी सेहत के लिए सभी चीजें खाना बेहद जरूरी है चाहे वो फल हों या सब्जी या फिर दूध. लेकिन इनका सही समय पर सेवन भी जरूरी है. एक्स्पर्ट्स के मुताबिक फल खाने का एक वक्त होता है. अगर सही समय इन्हें न खाया जाए तो फायदा पहुंचाने के बदले हानिकारक साबित हो सकते हैं.

    ज्यादातर लोग सेब खाते हैं. An apple a day keeps the doctor away ये कहावत भी खूब प्रचलित है. आयुर्वेद में भी कहा गया है कि फलों को सही समय पर खाने से ज्यादा फायदा होता है. विभिन्न शोध अध्ययन में भी ये निकलकर आया है कि सेब खाने का सही समय सुबह है. अधिक फायदा चाहिए तो उठने के बाद यानी खाली पेट खाना बेहतर हो सकता है.

    क्या सेब को छीलकर खाना ठीक होता है?

    सेब में बहुत ज्यादा मात्रा में पौष्टिक तत्व होते हैं. मिनरल और विटामिन से भरपूर सेब में फाइबर भी बहुत होता है. इसमें कॉलेस्ट्रॉल बिल्कुल नहीं होता है. सेब को छील कर नहीं खाना चाहिए. सेब अगर खाली पेट खाया जाए तो शरीर का टॉक्सिक (गंदगी) आसानी से बाहर निकल जाएगी. एनर्जी ज्यादा मिलेगी.

    जानिए होटल और रेस्टोरेंट्स में क्यों दिया जाता है फिंगर बाउल?

    सेब के छिलके पेक्टिन जैसे डाइटरी फाइबर में समृद्ध हैं. अनियमित मल त्याग या कब्ज से पीड़ित व्यक्ति को सुबह एक सेब खाने से बड़ी मदद मिल सकती है. इसके अलावा, इसमें पाया जाने वाला पेक्टिन लैक्टिक एसिड की रक्षा कर, लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया के पेट में अच्छी तरह से विकसित होने में मदद करते हैं. जब सेब शाम को खाया जाता है, वही पेक्टिन जो मल त्यागने में मदद करता है, वास्तव में आंतों के पाचन कार्य को कम करता है. इसलिए रात में सेब नहीं खाना चाहिए. वहीं अगर पाचन तंत्र मजबूत हो तो इसे रात में खाया जा सकता है.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए