• X

    अक्षय तृतीया पर इस चीज का सेवन क्यों है महत्वपूर्ण

    Akshaya Tritiya 2019 को आखातीज भी कहा जाता है. यह पर्व वैशाख शुक्ल तृतीया के दिन मनाया जाता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन किया हुआ जप, तप, ज्ञान तथा दान अक्षय फल देने वाला होता है. इस दिन सोना, गाड़ी या संपत्ति खरीदने को शुभ माना जाता है.

    अक्षय तृतीया पर भगवान को क्या चढ़ाया जाता है?
    दिन भक्तजन भगवान विष्णु की आराधना में विलीन होते हैं. स्त्रियां अपने और परिवार की समृद्धि के लिए व्रत रखती हैं. ब्रह्म मुहूर्त में गंगा स्नान करके श्री विष्णुजी और मां लक्ष्मी की प्रतिमा पर अक्षत यानी चावल चढ़ाना चाहिए. शांत चित्त से उनकी श्वेत कमल के पुष्प या श्वेत गुलाब, धूप-अगरबत्ती एवं चंदन इत्यादि से पूजा अर्चना करनी चाहिए. नैवेद्य के रूप में जौ, गेहूं या सत्तू, ककड़ी, चने की दाल आदि चढ़ाने से मनोकामना की पूर्ति होती है.

    किन चीजों का दान करना चाहिए
    इसी दिन ब्राह्मणों, गरीबों को भोजन कराकर उनका आशीर्वाद लेने से बिगड़े काम बनते हैं. साथ ही फल-फूल, बर्तन, वस्त्र, गौ, भूमि, जल से भरे घड़े, कुल्हड़, पंखे, खड़ाऊं, चावल, नमक, घी, खरबूजा, चीनी, साग, आदि दान करना पुण्यकारी माना जाता है.

    इस चीज का सेवन अतिआवश्यक है
    ऐसा माना जाता है कि इस दिन सत्तू अवश्य खाना चाहिए. akshaya tritiya 2019 के दिन नए कपड़े, शस्त्र, गहने आदिन बनवाने और पहनने से लाभ होता है. इस दिन किसी नए संस्थान, संस्था या समाज की स्थापना या उद्घाटन करने से कारोबार में उन्नति होती है.

    क्या है पौराणिक कथा का महत्व
    पौराणिक कहानियों के मुताबिक, इसी दिन महाभारत की लड़ाई खत्म हुई. द्वापर युग का समापन भी इसी दिन हुआ. इसी दिन भगवान श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर के पूछने पर यह बताया था कि आज के दिन जो भी रचनात्मक या सांसारिक कार्य करोगे, उसका पुण्य मिलेगा. कोई भी नया काम, नया घर और नया कारोबार शुरू करने से उसमें बरकत और ख्याति मिलेगी. Akshaya Tritiya 2019 के दिन स्नान, ध्यान, जप तप करना, हवन करना, स्वाध्याय पितृ तर्पण करना और दान पुण्य करने से पुण्य मिलता है.

    पूजा और सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त
    तिथि- 7 मई 2019, मंगलवार के दिन अक्षय तृतीया मनाई जाएगी.

    पूजा का शुभ मुहूर्त- सुबह 5:40 बजे से दोपहर 12:17 बजे तक.

    सोना खरीदने का मुहूर्त- सुबह 6:26 बजे से लेकर रात 11:47 बजे तक.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए