• X

    हल्दी वाला दूध बनाने का सही तरीका

    हल्दी किचन में मौजूद सबसे अच्छी एंटीबायोटिक्स में से एक है. इसलिए हड्डियों में दर्द, चोट लगने या फिर खांसी-जुकाम में हल्दी से बनने वाली चीजों के सेवन की सलाह दी जाती है. इसमें सबसे ज्यादा हल्दी वाला दूध पिया जाता है. हल्दी वाला दूध काफी फायदेमंद माना जाता है. यह झटपट तैयार हो जाता है, लेकिन ज्यादातर लोग गलत तरीके से हल्दी वाला दूध बनाते हैं.

    विधि

    हल्दी वाला दूध बनाने के लिए ज्यादातर घरों में पिसी हुई हल्दी को गर्म दूध में डालकर मिक्स कर लिया जाता है. पर आपको जानकर हैरानी होगी कि इस तरह का दूध ज्यादा लाभदायक नहीं माना जाता है. हल्दी वाला दूध बनाने के लिए कच्ची हल्दी यानी कि जो गांठ वाली हल्दी सबसे उत्तम मानी जाती है. इसलिए हम बता रहे हैं इसकी सही विधि.

    - हल्दी वाला दूध बनाने के लिए सबसे पहले हल्दी को बारीक-बारीक बारीक कूट लें.

    - एक बर्तन में 2 कप दूध और एक कप पानी डालें. दूध में पानी मिलाने से दूध ही दूध बचेगा और पानी सूख जाएगा.

    - दूध हल्दी के छोटे-छोटे टुकड़े डाल दें. अब इस दूध को कम से कम 15 से 20 मिनट तक धीमी आंच पर उबालना है. धीमी आंच पर उबालने से हल्दी के सारे पोषक तत्व दूध में अच्छी तरह मिल जाएंगे.

    - अच्छी तरह इस दूध को उबालने के बाद छान लें. फिर इसका सेवन करें. आप चाहें तो इसमें काली मिर्च भी मिला सकते हैं.

    - स्वाद बैलेंस करने के लिए चुटकीभर काला नमक भी मिला सकते हैं.

    - यह दूध कोलेस्ट्रॉल, जोड़ों का दर्द, कब्ज, खून साफ करना, वात रोग में फायदा पहुंचाता है. साथ ही शरीर के विषैले पदार्थों को शौच या मूत्र के रास्ते बाहर निकालने में मददगार होता है.

     

    क्‍या ये रेसिपी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें
    टैग्स

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए