• X

    बोतल बंद पानी कितना खतरनाक? इस तरीके से आप भी कर सकते हैं जांच

    कहते हैं जल ही जीवन है. जीवन यापन के लिए पानी कितना जरूरी है ये तो सभी को पता है. इसलिए लोग घर से पानी ले जाने के बजाय बोतल वाला पानी पीना ज्यादा पसंद करते हैं. चाहें वो सफर में हों या फिर ऑफिस या बाजार में. लेकिन उनकी यह आदत उन्हें बीमार बना सकती है. अब आप सोच रहे होंगे कि बोतल बंद पानी यानी की मिनरल वॉटर तो सबसे शुद्ध माना जाता है. बोतल बंद पानी का कारोबार भी काफी फल-फूल रहा है. बाकायदा यह आईएसआई सर्टिफाइड भी होता है तो इस लिहाज से यह सबसे शुद्ध होता होगा. तो आपको ये खबर चौंका सकती है. जी हां, बता दें इन बोतल बंद पानी पर अब सवालिया निशान लग गया है. इसमें किसी एक खास ब्रैंड नहीं बल्कि नामचीन कंपनियों का पानी भी शामिल हैं. ऐसे ब्रैंड जिनका पानी हम आंख बंद करके घट-घट करके पी जाते हैं.
    दरअसल, न्यूयॉर्क स्थ‍ित फ्रेडोनिया विश्वविद्यालय की शोधकर्ता शेरी मेसन ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि बोतल बंद पानी में प्लास्टिक के अवशेष मिले होते हैं. यह दावा उन्होंने दुनियाभर से लिए गए बोतल बंद के नमूनों की जांच के बाद किया है. उनकी तरफ से की गई जांच में 93 फीसदी नमूनों में प्लास्टिक के अवशेष मिले हैं.
    मेसन ने इस रिपोर्ट को तैयार करने के लिए भारत के आलावा 9 अन्य देशों से भी पानी के नमूने लिए. इन 9 देशों में भारत का पड़ोसी देश चीन भी शामिल है. इनके आलावा अमेरिका, ब्राज़ील, इंडोनेशिया, केन्या, लेबनान, मेक्स‍िको और थाईलैंड जैसे देश भी शामिल हैं. जबकि भारत से दिल्ली, चेन्नई, मुंबई से सैंपल लिए गए थे.
    भारत समेत दूसरे देशों से लिए गए इन नमूनों में कई बड़े ब्रांड के नमूने भी शामिल थे. इनमें कुछ ब्रांड तो ऐसे हैं, जो भारत में काफी ज्यादा बिकते हैं.

    शेरी मेसन ने बताया कि प्लास्टिक की बोतल में बंद पानी में पॉलीप्रोपाइलीन, नायलॉन और पॉलीइथाईलीन टेरेपथालेट जैसे अवशेष शामिल होते हैं. इन सभी का इस्तेमाल बोतल का ढक्कन बनाने में होता है.
    ये अवशेष बोतल में पानी भरते वक्त इस्तेमाल किए जाते हैं. इस वजह से यह पानी में शामिल हो जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं.
    शोधकर्ता के मुताबिक नल का पानी ज्यादा अच्छा और सुरक्षित है. शोधकर्ता की इस रिसर्च को अमेरिका की एक गैर-सरकारी संस्था ऑर्ब मीडिया ने जारी किया है. रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में 90 फीसदी बोतलबंद पानी में प्लास्टिक के बारीक कण घुले हुए हैं. इनमें दुनिया के 9 देशों के 11 बड़े ब्रांड्स शामिल हैं जिनमें भारत की बिस्लरी, एक्वाफिना और ईवियन जैसी कंपनियां भी हैं.
    इससे पहले ब्रिटेन के कार्डिफ नगर में स्थित वेल्स विश्वविद्यालय के एक वैज्ञानिक के नेतृत्व में शोधकर्ताओं ने बोतल बंद पानी दूषित बताया था. अपनी रिपोर्ट में उन्होंने बताया था कि यह पानी उतना ही दूषित है जितना दूषित भोजन होता है. इसे पीने से भी तबीयत ख़राब हो सकती है.
    (प्लास्टिक की बोतल में पानी नहीं बल्कि जहर पी रहे हैं आप!)

    अब सवाल यह उठता है कि कैसे पहचानें की पानी शुद्ध है या अशुद्ध. तो इसके लिए ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है.
    - एक साफ कांच की गिलास में पानी भरें.
    - गिलास को तेज रोशनी के सामने ले जाएं और चेक करें कि यह साफ दिख रहा है या धुंधला? क्या इसमें कुछ कण तैर रहे हैं या तली में बैठ रहे हैं ? साफ पानी के अलावा जो कुछ भी दिखाई दे वह विषाणु या प्रदूषक तत्व हो सकते हैं.
    (कहीं आप भी प्लास्टिक के चावल तो नहीं खा रहे?)

    - पानी को सूंघकर भी जांचें. अगर अगर यह बदबूदार, सड़े हुए अंडे, स्वीमिंग पुल के पानी जैसी गंध या फिर नेल पॉलिश के रिमूवर जैसी गंध या फिर किसी और तरह की गंध आती है तो समझिए पानी पीने योग्य नहीं. इसका मतलब यह है कि इसमें बहुत ज्यादा मात्रा में क्लोरीन ओर दूसरे कार्बनिक तत्व मिले हुए हैं.
    - अगर आप तो बाजार से पानी की शुद्धता पता जांचने की किट भी खरीद सकते हैं. यह आसानी से मिल जाएगी नहीं तो आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं. इस किट की मदद से पानी में कार्बनिक और अकार्बनिक तत्व का पता लगाया जा सकता है.

    इस तरीके से घर में ही बना सकते हैं एकदम शुद्ध पानी
    जिस पानी को आप शुद्ध करना चाहते हैं उसे एक पतीले में डालकर तेज आंच पर उबाल लें. इसका बात का ध्यान रखें कि पानी में अच्छी तरह से उबाल आ जाए.
    - पानी उबालने से इसमें मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया मर जाएंगे.
    - आप चाहें तो शुद्धिकरण गोलियों या लिक्विड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.
    - अगर पानी में कुछ बड़े कण तैर रहे हों, तो आप उसे छान लें.
    (एक बार फिर साबित हुआ कि जहरीले हैं pepsi coke)
    - आप चाहें तो एक पम्प फिल्टर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इससे भी पानी शुद्ध किया जा सकता है.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए