• X

    देवगौड़ा की फेवरेट है ये डिश, पीएम बनने पर लाए थे दिल्ली

    कर्नाटक में राजनीतिक सरगर्मी तेज है. इस बीच राजनीति के नए दोस्त और दुश्मन तय हो रहे हैं. जानिए क्यों इस स्थिति में अहम है ये डिश जिसका नाम है रागी मुद्दे. कर्नाटक के ओल्ड मैसूर की यह खास डिश के बारे में चर्चा इसलिए भी हम कर रहे हैं क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इसे खाकर दोस्ती की शुरुआत की जाती है.
    अब जबकि कर्नाटक में कांग्रेस के सिद्धारमैया और जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी गठबंधन करके एक नई सरकार बनाने वाले हैं. ऐसे में उन्हें एक-दूसरे को रागी मुद्दे जरूर खिलाना चाहिए. स्टारअनफोल्डेड वेबसाइट के अनुसार कुमारस्वामी को नॉनवेजिटेरियन चीजें काफी पसंद हैं. इसके साथ ही वे कर्नाटक की ट्रेडिशनल पकवानों का भी बखूबी लुत्फ लेते हैं. जबकि कांग्रेस के सिद्दारमैया की फेवरेड डिश उपमा है. इसके अलावा वे कर्नाटक के खास पकवानों को खाना भी पसंद करते हैं.
    वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई कहते हैं कि, 'रागी मुद्दे एक हेल्दी और अच्छी डिश है. इसे कर्नाटक के लोग खाते ही हैं खासतौर से ओल्ड मैसूर इलाके में. रागी मुद्दे एचडी देवगौड़ा की फेवरेट डिश है.'

    एचडी देवेगौड़ा से कैसे जुड़ी है रागी मुद्दे
    लोगों के रोजाना के खान-पान से जुड़ी यह डिश मुख्यत: साउथ कर्नाटक यानी की ओल्ड मैसूर में खूब पसंद की जाती है. जब एचडी देवेगौड़ा प्रधानमंत्री बने थे तो उन्होंने रागी मुद्दे को प्रचलित किया. वे इस खास डिश को कर्नाटक से दिल्ली लेकर आए थे.
    (मैसूर पाक या धारवाड़ी पेड़ा, कौन-सी मिठाई है कर्नाटक में फेमस?)

    रागी के चावल से बनने वाली इस डिश को कन्नड़ भाषा में रागी मुद्दे, तेलुगु में रागी संगती और तमिल में रागी कली कहा जाता है. जबकि मुद्दे का मतलब लंप या चावल होता है. रागी मुद्दे कर्नाटक और आंध्रप्रदेश रायसलीमा क्षेत्र में काफी पसंद की जाती है. रागी की पैदावार ओडिशा में सबसे ज्यादा होती है जिसे वहां मंडिया कहा जाता है. रागी मुद्दे दो चीजों से मिलकर बनती है. पहला रागी और दूसरा चावल. जबकि यह दही, सारू (सांभर), चटनी और गोज्जु (इमली या आम की चटनी) के साथ खाई जाती है. कभी-कभी इसे चिकन या मटन के साथ भी खाया जाता है. वहीं कर्नाटक के कृषक बाहुल्य इलाकों में रागी मुद्दे बेसारु गजब का कॉम्बिनेशन वाला खाना है. बेसारु एक तरह का रसम होती है जो कि दाल और लहसुन से बनाई जाती है. आइए जानते हैं रागी मुद्दे कैसे बनाई जाती है.
    (कर्नाटक के मैसूर से निकली है ये मिठाई, वीडियो में देखिए रेसिपी)

    ये सामग्री चाहिए

    रागी का आटा आधा कप
    पानी एक कप
    स्वादानुसार नमक

    बनाने की विधि

    - एक पैन में पानी में एक बड़ा चम्मच नमक डालकर मिला लें.
    - पैन को मीडियम आंच में गर्म होने के लिए रखें.
    - इसके बाद पानी में थोड़ा-थोड़ा आटे डालते जाएं और मिलाते जाएं.
    - इसे अच्छी तरह मिलाएं ताकि इसमें कोई गांठ न पड़े.
    (रसम, खरबूजा पनाका के अलावा ये हैं कर्नाटक की 15 फेमस ड्रिंक्स)
    -
    जब अच्छी तरह पेस्ट तैयार हो जाए तो पैन का ढक्कन लगा दें.
    - फिर कुछ देर बाद पेस्ट को चम्मच से चलाकर पकाएं. ( रागी मुद्दे को बनाने के लिए आटे को अच्छी तरह पकाना होता है.)
    - एक बार ढक्कन खोलें और किनारों से पेस्ट को हटाते हुए फिर पकाएं.
    (इन मिठाइयों से है कर्नाटक की पहचान, तीज-त्योहार में होती हैं खास)
    -
    मिश्रण अच्छी तरह पक जाए और गाढ़ा हो जाए तो आंच बंद कर दें और इसे ठंडा होने दें.
    - इसके बाद मिश्रण लेकर गोल लोई बना लें. इसे सारू या दाल, सांभर, चटनी के साथ खाएं.

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए