• X

    हलवा तो सूजी से बनता है पर सूजी किससे बनती है?

    सूजी का हलवा बनाने के बारे में तो जानते हैं पर क्या कभी सोचा है कि सूजी किस चीज से बनती है.
    सूजी गेहूं से बनती है. इसे बनाने के लिए सबसे पहले गेहूं की अच्छी तरह सफाई की जाती है. इसके बाद साफ और सूखे गेहूं को मिल में ले जाया जाता है. जहां सबसे पहले गेहूं के ऊपरी छिलकों को निकाला जाता है. ऊपरी छिलका निकालने के बाद गेहूं का जो भाग बच जाता है उसे मिल में दरदरे तरीसे पीसा जाता है, जिससे यह महीन टुकड़ों में टूट जाता है. इन्हीं कणों को सूजी कहते हैं. कई जगह सूजी को रवा भी कहा जाता है.
    सूजी में उतना पौष्टिक तत्व नहीं पाए जाते, जितने गेहूं में पाए जाते हैं. इसके पीछे कारण यह है कि गेहूं के ज्यादातर पौष्टिक तत्व उसके छिलके में ही होते हैं जोकि सूजी बनाने में निकल जाता है.

    कौन सी सूजी से बढ़िया
    ऐसा माना जाता है कि दुरुम गेहूं से बनी सूजी पीले रंग की होती है. यह आम तौर पर सूखे उत्पादों का बेस बनाने में इस्तेमाल किया जाता है. जैसे कूसकूस, जिसे मोटे तौर पर सूजी के दो भाग को दुरुम के आटे के एक भाग के साथ मिला कर बनाया जाता है.

    किन-किन देशों में होता है सूजी का इस्तेमाल
    वहीं जब आटे को नरम प्रकार के गेहूं से प्राप्त किया जाता है तब वह सफेद रंग का होता है. इस मामले में इसका सही नाम सूजी के बजाय आटा है क्योंकि सूजी दुरुम, गेहूं से प्राप्त होता है. संयुक्त राज्य अमेरिका में, दानेदार भोजन जो किसी नरम प्रकार के गेहूं से प्राप्त होता है को, फारिना या उसके व्यापारिक नाम क्रीम ऑफ वीट से भी जाना जाता है. जर्मनी, ऑस्ट्रिया, हंगरी, बुल्गारिया, सर्बिया और रोमानिया, में यह ग्रीज़ के रूप में जाना जाता है (जो 'जई के आटे' से संबंधित शब्द है) और इसे बीजों के साथ मिश्रित किया जाता है ताकि ग्रिज़नोडेल बनाया जा सके जिसे सूप में मिलाया जा सकता है. इसे दूध या पानी के साथ भी पकाया जा सकता है और चॉकलेट के टुकड़ों के द्वारा मीठा बनाया जा सकता है ताकि नाश्ता में खाए जाने वाला पकवान 'ग्रिज़कोच' बनाया जा सके.
    (चाइनीज फूड को टेस्टी बनाने के ये हैं शानदार कुकिंग टिप्स)

    कहीं जैम के साथ तो कहीं दलिया जैसा बनता है
    सूजी को उबालने के बाद यह एक नरम, पिलपिले दलिया की तरह हो जाता है. इस तरीके बना व्यंजन पश्चिमोत्तर यूरोप और उत्तरी अमेरिका में एक मिष्ठान के रूप में लोकप्रिय है. जिसे हलवा कहा जाता है. दूध और चीनी डालकर इसे टेस्टी बनाया जाता है. कहीं-कहीं इस हलवे में वेनिला डालकर खुशबूदार बनाकर जैम के साथ परोसा जाता है. स्वीडन, एस्टोनिया, फिनलैंड, लिथुआनिया, लातविया, पोलैंड और रूस, में इसे नाश्ते में दलिया के रूप खाया जाता है, कभी-कभी इसे किशमिश के साथ मिलाकर और दूध के साथ भी खाया जाता है. जबकि स्वीडिश में इसे मान्नाग्रीन्सग्रोट के नाम से जाना जाता है. मध्य पूर्व में, सूजी का प्रयोग हारिसा या तथाकथित बास्बोसा या नामोरा नामक मिष्ठान बनाने के लिए किया जाता है. वहीं अमेरिका में ग्रीट बहुत फेमस अनाज में से है. इसे चावल सूजी, या मक्का सूजी से तैयार किया जाता है.
    (सुपर फूड खिचड़ी की रोचक कहानी, देशभर में फेमस हैं ये खिचड़ी)

    इन देशों में अलग-अलग है हलवा का नाम
    जबकि दक्षिण भारत में, सूजी का उपयोग रवा डोसा और उपमा में किया जाता है. वहीं उत्तर भारत में इसका इस्तेमाल सूजी हलवा बनाने के लिए किया जाता है. जबकि हलवा को ग्रीस में हलवास, साइप्रस में हालोऊवास या हेल्वा, तुर्की में हेल्वा, ईरान में हलवा, पाकिस्तान में हलवा और अरब देशों में भी हलवा कहा जाता है. कभी-कभी सूजी को चीनी, मक्खन, दूध और पाइन नट्स के साथ सुखाकर बनाया जाता है. बॉसबौसा जोकि उत्तरी अफ्रीकी और अलेज़ैनड्रीं हारिसा खासतौर से सूजी से बनता है.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए