• X

    इस विधि से बनाना सीखिए काली तिल के लड्डू

    तिल लड्डू खाने में बहुत हेल्दी होते हैं. ज्यादातर लोग सफेद तिल के ही लड्डू खाना पसंद करते हैं पर यकीन मानिए काली तिल के लड्डू और फायदेमंद होते हैं. इसे कई जगह लड़ुआ भी बोला जाता है. संक्रांत के समय यह अमूमन हर घर में बनते हैं.

    एक नज़र

    • रेसिपी क्विज़ीन : इंडियन
    • कितने लोगों के लिए : 2 - 4
    • समय : 15 से 30 मिनट
    • मील टाइप : वेज

    आवश्यक सामग्री

      250 ग्राम काली तिल
      250 ग्राम गुड़
      एक कप पानी
      एक कड़ाही

    विधि

    - सबसे पहले धीमी आंच पर कड़ाही गरम होने के लिए रखें.
    - जब यह गरम हो जाए तो इसमें तिल डालकर लगातार चलाते हुए भूनें.
    - तिल भूनने में 10-15 मिनट का वक्त लगेगा. तिल भुन गई है इसका पता आपको इसकी खुशबू से चल जाएगा.
    - जब तिल भुन जाए तो इसे एक थाली में निकालकर फैला दें.
    - अब उसी कड़ाही में एक कप पानी और गुड़ डालकर मीडियम आंच पर रखें.
    - जब गुड़ अच्छी तरह पानी में घुल जाए तो इसमें एक बर्तन में छान लें.
    - कड़ाही को एक बार पानी से धो लें और फिर इसमें गुड़ वाला पानी डालकर तेज आंच पर रखें.
    - लड्डू बनाने के लिए तीन तार की चाशनी को इस्तेमाल किया जाता है.
    - जब चाशनी में अच्छी तरह उबाल आ जाए तो इसकी एक बूंद एक कटोरी पानी में डालकर देखें. अगर गुड़ पानी में जम जाता है तो समझिए लड्डू बनाने के लिए चाशनी तैयार है.
    - यहां इस बात का ध्यान रखें कि चाशनी काली न पड़े.
    - अब इस चाशनी को कड़छी से तिल पर डालते जाएं और दूसरे चम्मच से मिलाते जाएं.
    - चाशनी डालते वक्त इस चीज का ध्यान रखें कि यह ज्यादा या कम न हो.
    - चाशनी डालने के बाद हथेलियों पर थोड़ा-सा पानी लगाकर चाशनी और तिल को अच्छी तरह मिला लें.
    - इसमें थोड़ा-सा मिश्रण लेकर लड्डू बनाने की कोशिश करें. अगर लड्डू बंध जाएं तो फटाफट इसके लड्डू बना लें. अगर लड्डू नहीं बंध रहे हैं तो इसमें और चाशनी मिला लें.
    - लड्डू बांधते वक्त हथेलियों में पानी लगाना न भूलें.
    - कई जगह तिल को भूनने के बाद इसे पीस लिया जाता है या फिर खलबट्टे में कूटने के बाद इसके लड्डू बनाए जाते हैं, लेकिन हमने यहां साबुत तिल के लड्डू बनाएं.
    ( मकर संक्रांति पर बनाएं ये 5 खास व्यंजन, देंगे मिठास रखेंगे आपको फिट)
    क्‍या ये रेसिपी आपको पसंद आई?
    अपने दोस्‍त के साथ साझा करें
    टैग्स

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए