• X

    ये हैं गोरखपुर के कुछ खास पकवान, जरूर चखें एक बार

    गोरखपुर अपने मुगलई खान-पान के लिए बहुत फेमस है. यहां कम तीखे से लेकर ज्यादा तीखे तक हर तरह के मुगलई पकवान जैसे कोफ्ता, कबाब आदि मिलते हैं. आइए जानते हैं गोरखपुर में कहां क्या फेमस है.

    काकोरी कबाब
    गोरखपुर जाने पर काकोरी कबाब खाना तो बनता ही है. एक तरह से हम इन्हें गोरखपुर की पहचान कह सकते हैं. इन्हें धीमी आंच भरपूर मसालों के साथ पकाया जाता है. कबाब के साथ-साथ गोरखपुर में कोफ्ते भी बहुत मशहूर हैं.

    गलौटी कबाब
    गलौटी कबाब का मतलब ही होता है ऐसा कबाब जो मुंह में डालते ही घुल जाए. नवाबों के समय से चला आ रहा है ये कबाब अब गोरखपुर के पारंपरिक पकवानों में से एक है. कहते हैं कि गलौटी कबाब की असली रेसिपी में करीबन 100 से भी ज्यादा मसाले डाले जाते थे. गोरखपुर के 'तंदूर फूड' में सबसे बढ़िया काकोरी और गलौटी कबाब मिलते हैं और इन्हें हरी चटनी के साथ परोसा जाता है.

    कांजी बड़ा
    सिर्फ कबाब ही नही बल्कि कांजी बड़ा के लिए भी फेमस है गोरखपुर. गर्मी में लोग इसे खाना बहुत पसंद करते हैं और यह खूब बिकता है.

    स्ट्रीट फूड
    साबूदाना वड़ा, गोलगप्पे, पापड़ी चाट, राज कचौड़ी आदि भी गोरखपुर में बहुत खाए जाते हैं. गोरखपुर रेलवे स्टेशन से थोड़ी ही दूर पर कई फूड ढाबा हैं जैसे 'मिर्च मसाला', आदि जहां बहुत ही स्वादिष्ट चीजें मिलती हैं.

    मिठाई
    अगर आपको मीठा खाना पसंद है तो बता दें कि गोरखपुर कई पारंपरिक मिठाइयों, केक और पेस्ट्री के लिए भी जाना जाता है. जलेबी, रबड़ी , फालूदा, बर्फी आदि यहां बहुत खाई जाती है. गोरखपुर के सिटी मॉल के पास स्थित 'चौधरी होटल' की मिठाइयां बहुत फेमस है.

     

    क्‍या ये स्टोरी आपको पसंद आई?

Advertisment

ज़ायके का सबसे बड़ा अड्डा

पकवान गली में आपका स्‍वागत है!

आप हर वक्‍त खाने-खिलाने का ढूंढते हैं बहाना तो ये है आपका परमानेंट ठिकाना. कुछ खाना है, कुछ बनाना है और सबको दिखाना भी है, लेकिन अभी तक आपके हुनर और शौक को नहीं मिल पाया है कोई मुफीद पता तो आपकी मंजिल का नाम है पकवान गली.


ज़ायका ही आपकी जिंदगी है तो हमसे साझा करें अपनी रेसिपी, कुकिंग टिप्‍स, किसी रेस्‍टोरेंट या रोड साइड ढाबे का रिव्‍यू.

रेसिपी फाइंडर

या
कुछ मीठा हो जाए